वीर्य पतला होने पर क्या करें ? वीर्य को गाढ़ा कैसे करें ? जानिए

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप ? हमारी बिगड़ी हुई जीवनशैली हमारे शरीर के ऊपर कितना बुरा प्रभाव डाल रही है; इसके बारे में हम जानते भी नहीं हैं! हमारी गलत जीवनशैली के चलते हम कई सारे अंदरूनी बीमारियों का शिकार होते जा रहे हैं और हमें इस बारे में खबर भी नहीं लग पाती हैं। शादीशुदा होने के बाद एक से दो साल में अगर बच्चे ना हो; तो समाज में बातें होना शुरू हो जाता है। हमारा समाज शादी के बाद बच्चा होने पर अधिक जोर डालता है। लेकिन, इसके लिए सिर्फ औरतों को ही जिम्मेदार ठहराना गलत होता है। कई बार औरतो में भी कुछ कमियों के कारण बच्चा होने में तकलीफ हो सकती है। लेकिन, कुछ मामलों में बच्चा ना होने के लिए पुरुष भी उतने ही जिम्मेदार होते हैं। पुरुषों को घर के बाहर जाकर दिन भर काम करना पड़ता है; जिसकी वजह से उनकी जीवनशैली बिगड़ सकती हैं। अक्सर पुरुषों में यौन संबंधित समस्याओं में काफी बढ़ोतरी देखी गई है। पिछले कुछ सालों में शीघ्रपतन, स्तंभन दोष, कामेच्छा की कमी, शुक्राणुओं की कमी, वीर्य पतला होना जैसी समस्याओं का सामना पुरुष वर्ग कर रहा है।

व्यायाम का अभाव, खानपान में पोषक तत्वों की कमी और खानपान की गलत पद्धति, बढ़ता तनाव, खराब दिनचर्या, शराब धूम्रपान का प्रयोग, गलत जीवनशैली जैसे कई कारणों की वजह से पुरुषों में वीर्य की कमी हो जाती हैं। वीर्य की कमी होने पर उसका पूरा प्रभाव प्रजनन क्षमता पर पड़ता है और बच्चे पैदा करने में दिक्कत महसूस हो सकती हैं।

वीर्य पतला होने की समस्या आजकल आम हो गई है और इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपने जीवन शैली में और आहार पद्धति में कुछ उचित बदलाव करने से फायदा जरूर देखने को मिलता है। इसी के साथ, यह समस्या अगर गंभीर हो जाए; तो आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं।

तो दोस्तों, आज हम जानेंगे; वीर्य पतला होने के कारण, वीर्य पतला होने से होने वाले नुकसान, पतले वीर्य को गाढ़ा करने के लिए आयुर्वेदिक औषधियां और आहार में उचित बदलाव के बारे में।

वीर्य पतला क्यों होता है ? Virya Patla Hona :

पुरुषों में वीर्य पतला होने के निम्नलिखित कारण होते हैं।

१) ज़िंक की कमी-

हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने के कारण भी कई सारी परेशानियां देखी जा सकती है। वैसे ही, पुरुषों के शरीर में वीर्य पतला होने का कारण जिंक की कमी भी होता है। जिन लोगों पुरुषों के शरीर में जिंक की कमी होती है; उनको वीर्य पतला होने की समस्या का सामना करना पड़ता है। दरअसल, पुरुषों के शरीर में एक जिंक की एक स्टैंडर्ड वाली होती है; जिस में गिरावट आ जाने पर उन्हें वीर्य पतला होने की समस्या हो सकती हैं।

२) शीघ्रपतन-

कई पुरुषों को शीघ्रपतन की समस्या होने के कारण भी उनको वीर्य पतला होने की स्थिति का सामना करना पड़ता है। दरअसल, शारीरिक संबंध बनाते दौरान फोर प्ले करते समय वीर्य निकल जाता है और इस वीर्य में शुक्राणु मौजूद होते हैं। इसी कारणवश, आपके वीर्य की गुणवत्ता पर बुरा प्रभाव पड़ता है और वीर्य पतला होने की समस्या हो सकती है।

३) शुक्राणुओं की कमी या स्पर्म काउंट कम होना-

जिन पुरुषों में शुक्राणुओं की कमी होती है; उन पुरुषों को वीर्य पतला होने की समस्या हो सकती है। शुक्राणुओं की कमी को मेडिकल लैंग्वेज में “ओलिगोस्पर्मिया” कहा जाता है। अध्ययन के अनुसार, वीर्य में शुक्राणुओं की एक स्टैंडर्ड वैल्यू का मौजूद होना आवश्यक होता है। अगर वीर्य में स्टैंडर्ड वैल्यू से कम शुक्राणु पाए जाते हैं; तो ऐसी परिस्थिति में उसे शुक्राणुओं की कमी कहा जाता है। शुक्राणुओं की कमी होने के कारण वीर्य की गुणवत्ता पर बुरा असर होकर वीर्य पतला हो सकता है।

पुरुषों के शरीर में शुक्राणु की कमी होने के निम्नलिखित कारण होते हैं –

  1. शुक्राणुओं को वीर्य तक लाने वाली नालियो में चोट लगना या अन्य कोई समस्या होना।
  2. सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिजीज के कारण पुरुषों के अंडकोष में सूजन आ जाती है और इसी कारण, उन्हें ओलिगोस्पर्मिया का सामना करना पड़ता है।
  3. पुरुषों में हार्मोनल परिवर्तन होना।
  4. वैरीकोसेले नामक रोग में पुरुषों के अंडकोष की नसों में सूजन होने के कारण उनकी प्रजनन क्षमता पर बुरा प्रभाव पड़ना।
  5. पुरुषों के अंडकोष में बिनाइन या मेंलिगनेंट टयूमर बनने के कारण शुक्राणुओं की संख्या प्रभावित होना।

४) बार बार स्खलन

पुरुषों के शरीर में वीर्य को बनाने के लिए कुछ घंटों की जरूरत होती है और कुछ समय के अंतराल के बाद एक स्वस्थ वीर्य बनता है। लेकिन, कुछ पुरुष दिन में कई बार अगर हस्तमैथुन करते हैं; तो ऐसे में उनके वीर्य की गुणवत्ता पर प्रभाव पड़ता है और वह पतला होने लगता है। नियमित रूप से बार-बार होने वाला स्खलन के वीर्य को पतला बनाने के लिए जिम्मेदार होता है।

वीर्य पतला होने पर क्या नुकसान होता है ? Virya Ka Patla Hone Par Kya Nuksan :

पुरुषों में यौन क्रीड़ा के अंतिम समय में सकलेन के समय एक तरल पदार्थ निकलता है; जिसे वीर्य कहा जाता है। पुरुषों में यौन ग्रंथियों की मदद से यह वीर्य बनता है। वीर्य में शुक्राणुओं की एक स्टैंडर्ड वैल्यू मौजूद होना बहुत ही आवश्यक होता है। वीर्य में मौजूद शुक्राणु उसे स्वस्थ बनाए रखने के लिए आवश्यक होते हैं। अगर वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम हो जाए; तो उसके गुणवत्ता पर प्रभाव पड़कर वह पतला होने लगता है।

वीर्य पतला होने के बाद उसके गुणवत्ता प्रभावित होती है और शुक्राणुओं की संख्या भी घट जाती है। इसी कारण, मर्दों में इनफर्टिलिटी की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। वीर्य पतला होने पर मर्दों में इनफर्टिलिटी होना सबसे बड़ा नुकसान माना जाता है।

इनफर्टिलिटी होने के कारण और वीर्य की गुणवत्ता घटने के कारण वह बच्चा पैदा करने में असमर्थ हो जाते हैं। इसी कारणवश, उन्हें डॉक्टर के सलाह की जरूरत पड़ सकती है और सही इलाज के जरिए इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

वीर्य पतला होने से क्या बच्चा पैदा करने में दिक्कत आती है ? Virya Patla hone se Pregnancy me Khatra ?

शादी के कुछ सालों बाद भी अगर “गुड न्यूज़” ना आएं; तो रिश्तेदारों में और समाज में बातें होना शुरू हो जाता है। हमारी संस्कृति में बच्चा ना होने के जिम्मेदार सबसे पहले स्त्री को ही माना जाता है। लेकिन, हर बार बचाना होने के लिए महिला ही जिम्मेदार हो; ऐसा जरूरी तो नहीं है? कई बार पुरुषों में भी कुछ समस्याएं होने के कारण बच्चा ना होने की स्थिति का सामना करना पड़ता है। पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की गुणवत्ता कम होने के बाद उनमें इनफर्टिलिटी बढ़ जाती है; जिसकी वजह से वह बच्चा पैदा करने में असमर्थ हो जाते हैं।

जिन पुरुषों को वीर्य पतला होने की समस्या होती है; उन पुरुषों में वीर्य की तथा वीर्य में मौजूद शुक्राणुओं की गुणवत्ता पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है। ऐसी समस्या होने पर शुक्राणुओं की संख्या भी घटने लगती है और ओलिगोस्पर्मिया की समस्या उभर कर आती है। पुरुषों के वीर्य में अगर शुक्राणु की संख्या कम होगी; तो ऐसे में वह बाप बनने में असमर्थ हो ही जाते हैं। इसीलिए, अगर आप का वीर्य पतला है; तो आपको शुक्राणु की कमी की संख्या का सामना करना पड़ सकता है और इसी कारणवश, आपको बच्चे पैदा करने में भी दिक्कत महसूस हो सकती हैं

वीर्य को गाढ़ा कैसे करें ? Virya Ko Gadha (Thick) Kaise Kare ? 

प्राकृतिक तरीके से वीर्य को गाढ़ा करने के लिए कई सारे आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां मौजूद है। हमारे भारत देश का आयुर्वेद शास्त्र काफी प्राचीन और समृद्ध माना गया है। आयुर्वेद में मानव जाति के लगभग हर समस्या के लिए उपचार पद्धति मौजूद है। अगर आप वीर्य पतला होने की समस्या का सामना कर रहे हैं; तो आप आयुर्वेद विशेषज्ञ की सलाह लेकर जड़ी बूटियों का तथा औषधियों का सेवन कर सकते हैं। आयुर्वेदिक औषधियां एवं जड़ी बूटियां सुरक्षित होती है और इनका हमारे शरीर पर कोई भी बुरा प्रभाव या साइड इफेक्ट नहीं होता है।

१) अश्वगंधा-

आयुर्वेद शास्त्र में अश्वगंधा का अपना एक खास स्थान है। क्योंकि, अश्वगंधा यह जड़ी बूटी हमारे देश में काफी पुराने जमाने से इस्तेमाल होती आ रहे हैं। स्त्री तथा पुरुष दोनों ही में होने वाली यौन संबंधित समस्याओं का सामना करने के लिए अश्वगंधा का सेवन करने से काफी फायदा देखने को मिलता है। अश्वगंधा में मौजूद योगिक तथा औषधीय तत्व पुरुषों के शरीर में यौन संबंधित समस्याओं का निवारण करने के लिए कारगर होते हैं।

अध्ययन के अनुसार; अश्वगंधा का सेवन करने से पुरुषों के वीर्य की गुणवत्ता बढ़ाई जा सकती है, इनफर्टिलिटी दूर होती है और शुक्राणुओं की संख्या में भी वृद्धि होती है। अश्वगंधा का पाउडर दूध में मिलाकर पीने से पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की लेवल बढ़ाई जा सकती हैं। अगर आपको भी वीर्य पतला होने की समस्या सता रही है; तो किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के अनुसार आप अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं। आपकी स्थिति की गंभीरता के अनुसार चिकित्सक आपको अश्वगंधा के सेवन के उचित प्रमाण के बारे में बता पाएंगे।

२) गोक्षुर-

अध्ययन के अनुसार यह साबित हुआ है; कि पुरुषों के इनफर्टिलिटी को दूर करने के लिए गोक्षुरा का सेवन करने से काफी लाभ मिलते हैं। गोक्षुरा में मौजूद योगिक तथा औषधीय तत्व पुरुषों के शरीर में कामेच्छा की कमी को दूर करते हैं और फर्टिलिटी को बूस्ट करते हैं। गोक्षुरा का सेवन करने के बाद पुरुषों के शरीर में स्तंभन दोष, शीघ्रपतन जैसी समस्याओं का भी निवारण हो सकता है।

अगर आप वीर्य पतला होने की समस्या से जूझ रहे हैं; तो गोक्षुरा का सेवन करने से आपके वीर्य की गुणवत्ता सुधारी जा सकती है। इसी के साथ, गोक्षुरा का सेवन आपके शरीर में शुक्राणुओं की संख्या में भी वृद्धि करता है। अपने वीर्य को गाढ़ा करने के लिए और बांझपन की समस्या के छुटकारा पाने के लिए गोक्षुरा का सेवन करना चाहिए।

३) शिलाजीत-

यौन संबंधित समस्याओं का समाधान करने के लिए शिलाजीत एक भरोसेमंद एवं सुरक्षित औषधि साबित हुई है। हिमालय की गोदी से प्राप्त होने वाली यहां औषधि पुरुषों में ऊर्जा का संचार करती है। जिन पुरुषों को बांझपन की समस्या है; उनके लिए यह एक वरदान की तरह साबित होती है। शिलाजीत का सेवन करने के बाद पतले वीर्य को गाढ़ा बनाया जा सकता है।

इसी के साथ, शिलाजीत का सेवन पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या भी बढ़ाता है। स्तंभन दोष, शीघ्रपतन जैसी समस्याओं का समाधान करने के लिए भी शिलाजीत का सेवन करने से लाभ देखने को मिलते हैं। शिलाजीत का सेवन पुरुषों में शारीरिक कमजोरी को दूर भगाता है और कामेच्छा में वृद्धि करता है। आजकल मार्केट में शिलाजीत कई रूपों में उपलब्ध हैं। लेकिन, इसका सेवन करने से पहले चिकित्सक से सलाह मशवरा जरूर लेना।

४) मुलेठी-

शुक्राणु के स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए मुलेठी का इस्तेमाल पुरुषों के लिए काफी फायदेमंद होता है। मुलेठी एक ऐसी औषधि है; जो पुरुषों में बांझपन की समस्या को दूर कर सकती हैं। मुलेठी में मौजूद औषधीय तत्व पुरुषों में फर्टिलिटी को बूस्ट करती है। शारीरिक कमजोरी को दूर करके पुरुषों में ऊर्जा का संचार मुलेठी के सेवन से देखा जा सकता है।

मुलेठी का सेवन करने के बाद पुरुषों के स्तंभन दोष, शीघ्रपतन, कामेच्छा में कमी, पतला वीर्य जैसी समस्याओं का निवारण हो सकता है। अपने पतले वीर्य को प्राकृतिक रूप से गाढ़ा बनाने के लिए मुलेठी का सेवन अवश्य करना चाहिए। किंतु, इस दवाई का सेवन करने से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह जरूर लेनी।

वीर्य गाढ़ा होने के लिए क्या खाएं ? Sperm Thick Hone ke liye Kya khaye ?

जो पुरुष पतले वीर्य की समस्या से जूझ रहे हैं; उनको अपने आहार में कुछ उचित बदलाव जरूर करने होंगे। दरअसल, शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने के कारण भी प्रजनन क्षमता पर बुरा प्रभाव होता है और वीर्य की गुणवत्ता भी प्रभावित होती हैं। इस समस्या का निवारण करने के लिए हम आपको कुछ ऐसे पदार्थ बताने वाले हैं; जिनका सेवन करके आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

१) ज़िंक युक्त आहार-

पतले वीर्य को प्राकृतिक रूप से गाढ़ा बनाने के लिए ज़िंक युक्त आहार करने से विशेष लाभ देखने को मिलते हैं। आप अपने आहार में मछली, डेयरी उत्पाद, रेड मीट, साबुत अनाज, जिंगा जैसे पदार्थों को जरूर शामिल करें। शुक्राणुओं की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए ज़िंक की मात्रा शरीर में उचित होना बहुत ही आवश्यक होता है। अध्ययन के अनुसार, जिन लोगों के शरीर में जिंक की कमी होती हैं; उनको बांझपन की समस्या से जूझना पड़ता है। इसीलिए, अपने आहार में जिंक युक्त पदार्थों का सेवन अवश्य करना चाहिए।

२) विटामिन डी और कैल्शियम युक्त आहार-

पुरुषों के शरीर में विटामिन डी तथा कैल्शियम जैसे पोषक तत्वों की कमी होने के कारण पतले वीर्य की समस्या हो सकती हैं। इस समस्या का निवारण करने के लिए और अपने वीर्य को गाढ़ा बनाने के लिए पुरुषों को अपने आहार में विटामिन डी और कैल्शियम युक्त पदार्थों का सेवन अवश्य करना चाहिए।

दही, दूध, पनीर, अंडे, हरी पत्तेदार सब्जियां, ताजे फल जैसे पदार्थों में पोषक तत्व मौजूद होते हैं; जो पुरुषों में आई बांझपन की समस्या और पतले वीर्य की समस्या को ठीक करने में प्रभावी हो सकते हैं। अध्ययन के अनुसार, शरीर में विटामिन डी और कैल्शियम की उचित मात्रा वीर्य की गुणवत्ता को बढ़ाने में कारगर होती हैं।

३) मेथी-

प्राकृतिक औषधीय गुणों से युक्त मेथी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही आवश्यक और महत्वपूर्ण मानी गई है। मेथी में मौजूद औषधीय तत्व पुरुषों के शरीर में ऊर्जा का संचार करने में लाभदायक होती हैं। पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की लेवल बढ़ाने के लिए मेथी का सेवन करने से काफी फायदा देखने को मिलता है। इसी के साथ; मेथी का सेवन करने के बाद पुरुषों के शरीर में फर्टिलिटी बूस्ट होती है, शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है और पतले वीर्य की समस्या को दूर किया जा सकता है। अपने वीर्य को प्राकृतिक रूप से गाढ़ा बनाने के लिए मेथी के बीजों का सेवन भी किया जा सकता है।

४) ओमेगा थ्री फैटी एसिड युक्त आहार-

अपने शरीर में वीर्य की गुणवत्ता और शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए पुरुषों को ओमेगा थ्री फैटी एसिड युक्त आहार का सेवन करना लाभदायक होता है। ओमेगा थ्री पुरुषों के शरीर में फर्टिलिटी को बढ़ाता है, शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करता है और वीर्य की गुणवत्ता में सुधार लाता है। पुरुषों को अपने वीर्य को गाढ़ा बनाने के लिए अपने आहार में सी फूड, अलसी के बीज, नट्स, अखरोट, चिया सीड्स जैसे पदार्थों का समावेश करना चाहिए।

५) विटामिन सी-

प्राकृतिक रूप से अपने शुक्राणुओं की मोटिलिटी बढ़ाने के लिए पुरुषों को विटामिन सी युक्त पदार्थ खाने चाहिए। विटामिन सी एक तरह का एंटी ऑक्सीडेंट है; जो पुरुषों के शरीर में ऊर्जा का संचार करता है और फर्टिलिटी बढ़ाता है। जिन पुरुषों को पतले वीर्य की समस्या है; उन पुरुषों को विटामिन सी युक्त आहार का सेवन अवश्य करना चाहिए। ऐसा करने से उनके शरीर में वीर्य को गाढ़ा बनाया जा सकता है, स्पर्म की मोटिलीटी बढ़ाई जा सकती हैं और वीर्य की गुणवत्ता भी बढ़ती हैं। ब्रोकली, शिमला मिर्च, गोभी, आलू, टमाटर जैसी सब्जियां और संतरा, नींबू, मोसंबी, कीवी, अनानास जैसे खट्टे फलों का अपने आहार में समावेश करने से पुरुष अपने वीर्य को गाढ़ा बना सकते हैं।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए एक्सरसाइज – Virya Gadha Karne ki Exercise :

वीर्य को प्राकृतिक तरीके से गाढ़ा करने के लिए पुरुषों को रोजाना अपने जीवन में एक्सरसाइज को शामिल करना होगा। कोई भी एक्सरसाइज हो  साइकिलिंग, चलना, दौड़ना, योग, प्राणायाम तथा तरह-तरह के योगासन इनको अपने जीवन में शामिल करने से हमारे शरीर में काफी अच्छे बदलाव देखे जा सकते हैं। पुरुषों के शरीर में हुई कोई भी शारीरिक समस्या या यौन संबंधित समस्या जैसे शीघ्रपतन, कामेच्छा में कमी, स्तंभन दोष, वीर्य की गुणवत्ता में कमी इन सभी समस्याओं से लड़ने के लिए एक्सरसाइज तथा योगासन करने से काफी लाभ देखने को मिलता है।

एक्सरसाइज तथा योग का अभ्यास करने से हमारे शरीर में ब्लड सरकुलेशन बढ़ता है और शारीरिक कार्यप्रणाली उचित तरीके से चलती है। एक्सरसाइज करने से रक्त प्रवाह सुचारू रूप से होता है और यौन संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिल पाता है। भस्त्रिका, अनुलोम विलोम, कपालभाति, पश्चिमोत्तानासन, ताड़ासन, बालासन जैसे प्राणायाम एवं योगासन का अभ्यास पुरुषों के वीर्य की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कारगर होते हैं।

क्या पीने से वीर्य गाढ़ा होगा ? Kya Pine se Virya Gadha hoga ?

पुरुष अपने वीर्य को प्राकृतिक रूप से गाढ़ा बनाने के लिए अश्वगंधा की जड़ों के जूस या रस को निकाल कर पी सकते हैं। अश्वगंधा के जड़ का रस पीने से पुरुषों में वीर्य वृद्धि होती है, वीर्य की गुणवत्ता बढ़ती है, वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाई जा सकती है और बांझपन की समस्या भी कम हो जाती हैं  अश्वगंधा एक जानी मानी औषधि है; जो पुरुषों और महिलाओं दोनों के यौन संबंधित समस्याओं के लिए खरी उतरी है। इसी के साथ, पुरुष अपने वीर्य को गाढ़ा बनाने के लिए फ्रूट जूस पी सकते हैं। तरह-तरह के फलों का जूस पीने से पुरुषों के शरीर में उचित पोषक तत्वों की आपूर्ति होगी; जिससे उनके वीर्य की गुणवत्ता बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए क्या वर्जित करें- Virya Ko gadha karne ke liye kya naa Kare ?

पुरुषों के शरीर में वीर्य की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए उनको कुछ पदार्थों से परहेज करना जरूरी होता है। शराब, धूम्रपान, तंबाकू के पदार्थों का सेवन तथा अन्य नशीली पदार्थों का सेवन पुरुषों को वर्जित करना चाहिए। क्योंकि, यह सारे ही पदार्थ प्रजनन क्षमता और वीर्य की गुणवत्ता पर बुरा प्रभाव डालते हैं और इसी कारणवश, पुरुषों में यौन संबंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।

इसी के साथ; पुरुषों को इंस्टेंट फूड, जंक फूड, कोल्ड ड्रिंक्स जैसे अनहेल्दी पदार्थों का सेवन भी नहीं करना चाहिए। यह सारे ही पदार्थ पुरुषों के प्रजनन क्षमता पर बुरा प्रभाव डालकर उसमें कमी लाते हैं।

इसी के साथ; पुरुषों को अपने स्ट्रेस को मैनेज करने के लिए भी कुछ ना कुछ जरूर करना चाहिए। तनाव के कारण पुरुषों के शरीर में वीर्य की गुणवत्ता में बाधा उत्पन्न हो सकती हैं। इसीलिए, बढ़ते तनाव को मैनेज करने के लिए योग, मेडिटेशन और प्राणायाम जैसे प्रेक्टिस करने से फायदा देखने को मिलता है।

तो दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

Leave a Comment