Connect with us

Love Tips

लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें? Love Marriage Kare ya Arrange

Published

on

लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें?

नमस्कार दोस्तों स्वागत है,आपका हमारे यूनिक देसी हिंदी पोर्टल पर दोस्तों आज का हमारा युवा पीढ़ी के लिए महत्वपूर्ण विषय है, जो कि वह अक्सर सोचते हैं। कि आखिर लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें? दोस्तों आज हम इस विषय के बारे में आपको गहराई से बताने वाले हैं, जिससे आप लव मैरिज या अरेंज मैरिज करने में फंसे हैं तो वह रास्ता आपके लिए क्लियर हो जाएगा।

लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें? दोस्तों यह सवाल सभी नौजवानों को आता है। जब वह शादी के उम्र के हो जाते हैं, उस वक्त उन्हें यह समझ नहीं आता है कि आखिर करना क्या चाहिए क्योंकि उनके लिए भी यह फैसला अधिक कठिन होता है। और उन्हें इन सभी चीजों का किसी भी प्रकार से तजुर्बा नहीं होता है, तो आज उन्हीं लोगों को हम बताने वाले हैं कि अरेंज मैरिज करने के फायदे और नुकसान और लव मैरिज करने के फायदे और नुकसान कौन से होते हैं, जिससे वह यह अनुमान लगा पाएंगे कि लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें?

लव मैरिज करना अच्छा है या अरेंज मैरिज करना अच्छा है?

दोस्तों सबसे पहले हम आपको यह बता देते हैं, शादी यह अपने साथी से पूरी जिंदगी निभाने की एक प्रोसेस है। शादी केवल 1 दिन की नहीं होती है यह उन दोनों साथ इशारों को जिंदगी भर निभानी पड़ती है। दोनों को चाहे महिला हो या पुरुष एक दूसरे की सहायता करनी पड़ती है, एक दूसरे की सुख दुख में शामिल होकर उन्हें अपनी जिंदगी गुजारनी पड़ती है।

दोस्तों ना ही लव मैरिज गलत बात है, और ना ही अरेंज मैरिज गलत बात है। आज के कलयुग में शादी के बाद आपकी समझदारी पर आपका आगे का भविष्य निर्भर होता है, फिर चाहे आप लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें। क्योंकि दोस्तों चाय आप लव मैरिज करते हो या फिर अरेंज मैरिज करते हो लेकिन शादी के बाद अगर आप या आपका साथी दार आपको परेशान करें आपको और आपके विचारों को समझ नहीं पाए तो ऐसे में आप दोनों में विवाद छिड़ जाते हैं और दोनों की एक दूसरे से पटती नहीं है। दोनों साथियों के बीच में झगड़े होते रहते हैं, और यह झगड़े तलाक तक चले जाते हैं या फिर कई ऐसे साथी है, जो केवल हमबिस्तर होने के लिए ही एक दूसरे के साथ रहते हैं। शादी यह एक पवित्र बंधन होता है इसमें सिर्फ शारीरिक संबंधों से नाता नहीं जुड़ता है, बल्कि मानसिक भावनिक संबंधों से इंसान एक दूसरे से जोड़ता है, जिससे वह अपने साथी के सुख और दुख में आसानी से शामिल हो पाता है। शारीरिक संबंध यह केवल अट्रैक्शन होता है, जो कि एक दो बार उस व्यक्ति के साथ करने के बाद आपकी इच्छा खत्म हो जाती है। शादी के बाद अगर आप दोनों पार्टनर ओं के विचार मिलते जुलते हैं, तो आप जिंदगी भर एक साथ हंसी खुशी से रह सकते हैं। शादी होने के बाद आपको सभी को संभालना होता है जैसे कि अपने मां-बाप को आपकी बीवी के मां-बाप को बीवी को और सभी रिश्तेदारों को या फिर बीवी आपके मां-बाप को समझती है आपके रिश्तेदारों को संभालती है। उसके बाद आपके बच्चों का पालन पोषण और हो करती है साथ ही साथ पूरे घर की जिम्मेवारी उस पर होती है, तो ऐसे में पति का फर्ज बनता है, कि अपनी बीवी का ख्याल रखें। जो भी पति अपनी बीवी की इच्छा आकांक्षा का ख्याल रखता है, उन दोनों का जीवन हंसी खुशी से चलता है, या फिर उसी तरह अगर बीवी अपने पति की खुशी और उसकी इच्छा है। के बारे में सोचती है तो उन दोनों में भी रिश्ता गहरा होते जाता है।

आजकल के नौजवान शारीरिक संबंधों को प्यार का नाम दे देते हैं लेकिन दोस्तों प्यार यह ऐसा अटूट नाता है, जो जिंदगी भर एक दूसरे को बांधे रखता है। अगर आप ऐसा सोचते हैं कि शारीरिक संबंध भी प्यार है तो आप चाय एक साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाए या 100 साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाए आपको कभी भी उस चीज से समाधान नहीं मिलेगा। अगर आपके दिल में सच्चे प्यार की भावना पैदा होती है। तो आप जिस व्यक्ति से प्यार करते हैं, उस व्यक्ति के अलावा आपको किसी भी में किसी भी प्रकार की रूचि नहीं होती है, आप केवल और केवल उसी व्यक्ति को प्यार करते हैं, और उसी व्यक्ति के साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहेंगे और उसी व्यक्ति के साथ आप जिंदगी भर खुश रह सकते हैं।

लव मैरिज करने के फायदे :

  • दोस्तों लव मैरिज करने के कई प्रकार के फायदे होते हैं; जैसे कि
  • सबसे महत्वपूर्ण फायदा आप उसी व्यक्ति से शादी करते हैं जिसे आप अच्छे से जानते हैं, और अगर आप दोनों के बीच अच्छी बॉन्डिंग हो तो आपका जीवन आसानी से हंसी खुशी से गुजर सकता है।
  • लव मैरिज में आपको कहीं पर भी अपने साथी दार को ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ती है।
  • लव मैरिज में आप अपनी खुद की पसंद के साथी से शादी कर सकते हैं। फिर चाहे वह किसी भी काश का हो या किसी भी धर्म का।
  • लव मैरिज में आपको आपके साथी द्वारा किसी भी प्रकार की रोक टोक नहीं होती है।
  • लव मैरिज करने से आपके काफी सारे पैसे बच जाते हैं जैसे कि अरेंज मैरिज करने में बहुत पैसे की जरूरत होती है। वैसा अगर आप भागकर या साधारण विवाह करते हैं, तो आपके अधिक पैसों की बचत होती है।

लव मैरिज करने के नुकसान :

  • दोस्तों लव मैरिज करने के नुकसान ऐसा कहीं पर भी लिखा गया नहीं है;लेकिन, हमारे समाज में लव मैरिज यह समाज के विरोध में जाकर शादी करने के बराबर माना जाता है और यह बात कई लोगों को पसंद है और कई लोगों को नापसंद इस वजह से उन दो वैचारिक स्थितियों के लोगों में झगड़े उत्पन्न हो जाते हैं।
  • और ऐसी स्थिति में नौजवान लड़के और बूढ़े बुजुर्गों में ही झगड़े होते हैं।
  • तो दोस्तों लव मैरिज का सबसे बड़ा नुकसान यही है अगर आपके घर वालों के अनुमति के बगैर आप लव मैरिज करते हैं। तो आपको आपके परिवार के साथ झगड़ा करना पड़ता है, या फिर आपके परिवार को छोड़ना पड़ता है। 
  • लव मैरिज करने से आपके रिश्ते नाते टूटने की संभावना होती है।
  • लव मैरिज हो बुरी बात नहीं है लेकिन फिर भी समाज ऐसे लोगों को नीची नजरों से देखता है। समाज में रहने वाले लोग आपको ताने मार सकते हैं।
  • लव मैरिज करने के लिए चाहे आपके परिवार की अनुमति हो लेकिन सामाजिक नजरिए से देखा जाए तो रिश्तेदार या बाहरी लोग आपके घर वालों को या आपको आना मार सकते हैं, यहां आपको परेशान कर सकते हैं।
  • लव मैरिज में यह भी संभावना होती है,कि अपना साथी कैसा है। अगर साथी केवल आपके जायदाद के लिए ही आपसे शादी कर रहा है,तो वह आपको पारिवारिक सुख नहीं दे सकता है, और वैवाहिक जीवन आपका बर्बाद हो सकता है।

अरेंज मैरिज करने के फायदे :

  • दोस्तों अरेंज मैरिज करने के फायदे यह है; जैसे कि आप आपके परिवार और आपके खुद के चुनाव द्वारा आप आपका जीवन साथी चुनते हैं।
  • अगर आप अरेंज मैरिज करते हैं। तो किसी से आपके रिश्तेदार और आपके परिवार के लोग आपसे बहुत खुश होते हैं, क्योंकि यह पुरानी परंपरा है और यही परंपरा अगर आप अपना होगे तो बड़े बुजुर्गों को इस बात की खुशी होती है।
  • अरेंज मैरिज में आपको आपके साथी के साथ प्यार हो जाता है और उसी प्यार में आप के एक दो साल कहां निकल जाता है पता नहीं चलता है।
  • अरेंज मैरिज में आपका पहला प्यार होता है और प्यार में इंसान अंधा हो जाता है, इसीलिए उसे सभी प्रकार की चीजें अच्छी लगती है।
  • अरेंज मैरिज में अपने साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाने में उसे अधिक मजा आता है। और उसका हर एक वह पल पहली दफा होता है, और पहली दफा होने वाला हर अनुभव यह बेहतर साबित होता है।
  • अरेंज मैरिज करने दो परिवारों का मिलाओ होता है, और बड़े ही प्यार से और चार से वह एक दूसरे से रिश्ता बनाते हैं।

अरेंज मैरिज करने के नुकसान :

  • दोस्तों अरेंज मैरिज करने के नुकसान यह होता है कि कई परिवारों में जबरदस्ती शादी करवाई जाती है फिर चाहे उसे अपना पार्टनर पसंद हो या ना हो तो यह सबसे बड़ा नुकसान होता है।
  • अरेंज मैरिज में शादी करने के लिए तू अधिक पैसा लड़की वालों से लिया जाता है। जिसे एक दहेज भी कहते हैं, और यह सरासर गलत बात है।
  • अगर आपकी जबरदस्ती शादी हुई हो तो आपकी आपके पार्टनर के साथ समझदारी नहीं बन पाती है, और आप दोनों में झगड़े शुरू हो जाते हैं।
  • अरेंज मैरिज करने से कई बार आपको मानसिक तकलीफ हो सकती है क्योंकि आप जिन लोगों को जानते ही नहीं उन लोगों के साथ आपको खुद का घर छोड़कर अपना नया घर बसाना होता है। तो यह बात काफी परेशानी पूर्वक होती है।
  • अरेंज मैरिज में सभी रिश्ते नाते नए होते हैं तो एड्रेस करने में थोड़ा समय लगता है,जिससे आप मानसिक रूप से परेशान हो सकते हैं।

तो दोस्तों हमने आज के इस आर्टिकल में लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज करें? के बारे में पूरी तरह से जानकारी देने का प्रयास किया वह है, जो कि हमने अनुभवी लोगों से बातचीत करके इसके बारे में राय ली है। और इसका यही एकमात्र जवाब दें कि आप आपकी सोच के अनुसार लव मैरिज भी कर सकते हैं। और अरेंज बारिश भी कर सकते हैं, यह केवल आपके समझदारी पर निर्भर होता है। धन्यवाद

 

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Disclaimer:

Our website Name UDHP Stands for Unique Desi Hindi Portal. This Website ud-hp.in has no link with any govt. authority and specially Directorate Of Urban Development Himachal Pradesh and any of its official website. You can refer to their Official website www.ud.hp.gov.in for its official updates and information.